Monday, May 20, 2024

सुधा मूर्ति को राष्ट्रपति ने राज्यसभा के लिए किया मनोनीत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुधा मूर्ति को बधाई देते हुए उनके सफल संसदीय कार्यकाल की कामना की है. इंफोसिस के संस्थापक नारायण मूर्ति की पत्नी एवं समाजसेवा सुधा मूर्ति को राज्यसभा के लिए मनोनीत किया किया है. इस ऐलान के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई देते हुए उनके सफल संसदीय कार्यकाल की कामना की है. सुधा मूर्ति ‘मूर्ति ट्रस्ट’ की अध्यक्ष भी हैं और उन्होंने कई किताबें लिखी हैं.

पीएम मोदी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर पोस्ट करके सुधा मूर्ति को बधाई दी. उन्होंने लिखा, ‘मुझे ख़ुशी है कि भारत के राष्ट्रपति ने श्रीमति सुधा मूर्ति को राज्यसभा में नामांकित किया है. सामाजिक कार्यों, परोपकार और शिक्षा सहित विविध क्षेत्रों में सुधाजी का योगदान अतुलनीय और प्रेरणादायक रहा है. राज्यसभा में उनकी उपस्थिति हमारी ‘नारी शक्ति’ का एक शक्तिशाली प्रमाण है, जो हमारे देश की नियति को आकार देने में महिलाओं की ताकत और क्षमता का उदाहरण है. उनके सफल संसदीय कार्यकाल की कामना करता हूँ.’

बता दें कि राष्ट्रपति संसद के उच्च सदन में कला, साहित्य, विज्ञान और सामाजिक सेवाओं में उत्कृष्ठ योगदान के लिए 12 सदस्यों को नामांकित करते हैं.73 वर्षीय सुधा मूर्ति का राज्यसभा के लिए नामांकन अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के दिन हुआ है. उन्हें 2006 में पद्म श्री पुरस्कार और 2023 में पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

इंफोसिस के सह संस्थापक एनआर नारायणमूर्ति की पत्नी ‘मूर्ति ट्रस्ट’ की अध्यक्ष भी हैं और उन्होंने कई किताबें लिखी हैं. उनकी बेटी अक्षता मूर्ति की शादी ऋषि सुनक से हुई है, जो ब्रिटेन के प्रधानमंत्री हैं.

Advertisement
Gold And Silver Updates
Rashifal
Market Live
Latest news
अन्य खबरे