Friday, April 12, 2024

Share Market क्या है और Share Bazar कैसे काम करता है ?

क्या आपने कभी सोचा है, “Share Market Kya Hai” और इसमें इन्वेस्ट कैसे करते हैं? अगर हां, तो आप बिल्कुल सही जगह पर हैं। आज हम इस ब्लॉग पोस्ट के ज़रिए आपको शेयर मार्केट क्या है के बारे में समझाने की कोशिश करेंगे।

हम आपको इसमें शेयर मार्केट की नज़रिया, इसके महत्वपूर्ण तत्वों, और निवेश करने के तरीकों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे। चाहे आपको शेयर मार्केट में नया हो या पहले से जानकार हो, यह ब्लॉग पोस्ट आपके लिए उपयोगी होगी। तो आइए, शुरू करते हैं और जानते हैं कि शेयर मार्केट क्या चीज है और इसमें निवेश कैसे कर सकते हैं।

शेयर मार्केट, याने की शेयर बाजार एक ऐसी जगह है जहां कंपनियाँ अपने शेयर बेचती हैं और निवेशक उन शेयरों को खरीदते हैं। जब आप किसी कंपनी के शेयर खरीदते हैं, तो आप उस कंपनी के एक छोटे से हिस्सेदार बन जाते हैं।

शेयर मार्केट एक रंगीन और जोशीली दुनिया है, जहां निवेशकों के सपने और कंपनियों के योजनाओं का मेल आपको मिलता है। यहां कंपनियों के शेयरों का बाजार घूमता है, प्राइस उछालता है, और बुल्स और बेयर्स का ज़ोरदार टकराव होता है। यह एक जगह है जहां साहसिक निवेशक रिस्क और मुनाफे की उच्च गति में चलते हैं।

शेयर बाजार (Share Market) में आपको बहुत सारे कंपनियों के शेयर मिलेंगे, जिनमे आप निवेश कर सकते हैं। लेकिन इसमें जोखिम भी होता है, क्योंकी शेयरों की वैल्यू मार्केट की स्थितियों के हिसाब से बढ़ती और घटती रहती है।

शेयर मार्केट के अंदर आपको दो तरह के शेयर मिलते हैं – Equity और Preference Share। इक्विटी शेयर में आप कंपनी के मालिक बनते हैं और प्रॉफिट के हिसाब से डिविडेंड मिलता है। Preference Share में आपको फिक्स्ड डिविडेंड मिलता है, लेकिन आप कंपनी के मालिक नहीं बन सकते।

कुल मिलाकर, शेयर बाजार एक अच्छा विकल्प है अपने पैसे को बढ़ाने के लिए, लेकिन इसमें निवेश करने से पहले बाजार के बारे में अच्छी तरह से जानकारी होनी चाहिए। अन्यथा आपको लाभ के स्थान पर हानि होने की ज़्यादा सम्भावनाएँ हैं।

Share Market कैसे चलता है?

शेयर मार्केट कैसे चलता है, ये सवाल हर नए निवेशक के मन में होता है। अब हम आपको बताते हैं कि शेयर मार्केट असल में काम कैसे करता है। शेयर मार्केट एक ऐसी जगह है जहां पर कंपनियां अपने शेयर बेचते हैं और निवेशक उन शेयरों को खरीदते हैं, जिनसे दोनों को लाभ कमाने का मौका होता है। ये पूरा प्रोसेस ऑनलाइन होता है, जिसके कारण आप अपने घर बैठे ही शेयर खरीदे और बेच सकते हैं।

शेयर बाजार में दो भाग होते हैं – प्राथमिक बाजार और द्वितीयक बाजार।

प्राइमरी मार्केट में नई कंपनियां अपने शेयर पब्लिक को ऑफर करती हैं, जिस आईपीओ (इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग) कहते हैं। जब निवेशक शेयरों को खरीदते हैं, कंपनी को पैसे मिलते हैं।

द्वितीयक बाजार में पहले से खरीदे गए शेयर का लेन-देन होता है, जिस्मे निवेशक एक दूसरे से शेयर खरीदे-बेच सकते हैं।

शेयर बाजार को समझने के लिए, आपको शेयर बाजार के मुख्य सूचकांक जैसे BSE सेंसेक्स और NSE निफ्टी के बारे में जाना पड़ेगा। ये इंडेक्स मार्केट की ओवरऑल परफॉर्मेंस को दिखाते हैं। इसके अलावा, तकनीकी विश्लेषण और मौलिक विश्लेषण भी सीखें, जिससे आप बेहतर निवेश निर्णय ले सकेंगे।

शेयर मार्केट में कदम रखने से पहले, एक डीमैट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट जरूर खोलें। ये खाते आपके शेयर को डिजिटल रूप में सम्भालने और ट्रेडिंग करने में मदद करते हैं। आजकल के समय में, बहुत से ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म हैं, जिनसे आप आसनी से शेयर मार्केट में निवेश कर सकते हैं।

अंत में, हम यही कहना चाहेंगे कि शेयर मार्केट कैसे चलता है समझने के बाद ही अपने पैसे का निवेश करें। सही जानकारी, मार्केट रिसर्च, और सब्र के साथ, आप शेयर मार्केट में अच्छे रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन, हमेशा याद रखने की शेयर बाजार में निवेश करना जोखिम से भरा होता है, इसमें अपनी जोखिम लेने की क्षमता को ध्यान में रख कर ही निवेश करें।

भारत में शेयर बाजार कौन चलाता है?

भारत में शेयर बाजार SEBI द्वारा चलाया जाता है। SEBI यानी की The Securities and Exchange Board of India (SEBI) एक regulatory authority है जिसे की स्थापित किया गया था SEBI Act 1992 के अंतर्गत। यह एक प्रमुख regulator है भारत में Stock Exchanges की।

शेयर कैसे ख़रीदते हैं?

शेयर बाजार में निवेश करने से पहले कुछ महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखना जरूरी है:

डीमैट खाता

शेयर खरीदने के लिए आपको पहले एक डीमैट खाता खोलना होगा। इसमें आप अपने शेयर सर्टिफिकेट को इलेक्ट्रॉनिकली स्टोर कर सकते हैं।

यदि आप Share Market में अपने पैसे निवेश करना चाहते हैं तब ऐसे में आप Discount Broker “Zerodha” पर अपना account बना सकते हैं। इसमें आप बहुत ही जल्द और आसानी से Demat Account खोल उसमें Share भी खरीद सकते हैं। निचे इसकी link दी गयी है।

ब्रोकर

डीमैट अकाउंट के साथ-साथ आपको एक ब्रोकर की भी जरूरत होगी। आपको किसी भी प्रतिष्ठित ब्रोकर (Zerodha) से संपर्क करना होगा जो आपके शेयर को खरीदने और बेचने में मदद करेगा।

रिस्क प्रोफाइल

शेयर करें खरीदे वक्त अपने रिस्क प्रोफाइल को जरूर ध्यान में रखें। अगर आप शुरुआती हैं तो अपने निवेश राशि को छोटा रखें और सही रिसर्च करके ही शेयर खरीदें।

रिसर्च

सही रिसर्च के बिना शेयर मार्केट में निवेश करना बहुत जोखिम भरा हो सकता है। इस्लीये, शेयर खरीदने से पहले कंपनी के फाइनेंशियल रिपोर्ट्स और मार्केट ट्रेंड्स को ध्यान से स्टडी करें। सब पॉइंट्स को ध्यान में रखते हुए, आप भी शेयर मार्केट में अपनी इनवेस्टमेंट कर सकते हैं और अच्छी रिटर्न्स पा सकते हैं।

शेयर कब खरीदें और कब बेचें?

शेयर बाजार में निवेश करने से पहले ये जरूरी है कि आप शेयर कब खरीदें और कब बेचे उसके बारे में अच्छी तरह से जान लें। शेयर बाजार एक बहुत ही अप्रत्याशित बाजार है और इसमें निवेश करने से पहले आपको सही समय का चयन करना होगा।

शेयर कब खरीदें

शेयर मार्केट में निवेश करने के लिए आपको कंपनी के फाइनेंशियल रिपोर्ट्स और मार्केट ट्रेंड्स को अच्छी तरह से स्टडी करना होगा। अगर आप एक लॉन्ग टर्म इनवेस्टर हैं तो कंपनी के फंडामेंटल्स को अच्छी तरह से स्टडी करें और उनके ग्रोथ प्रॉस्पेक्ट्स को एनालाइज करें। ऐसे में शेयर खरीदने का सही समय होता है जब कंपनी के फंडामेंटल्स मजबूत होते हैं और स्टॉक प्राइस अंडरवैल्यूड होता है।

शेयर कब बेचें

शेयर बेचने का सही समय आने पर आप अपनी इन्वेस्टमेंट को महसूस कर सकते हैं और प्रॉफिट कमा सकते हैं। आप शेयर बेचने से पहले कंपनी के वित्तीय और मार्केट ट्रेंड को अच्छी तरह से स्टडी करें और स्टॉक प्राइस के मूवमेंट को ट्रैक करें। ऐसे में शेयर बचने का सही समय होता है जब कंपनी के फंडामेंटल्स कमजोर होते हैं और स्टॉक प्राइस ओवरवैल्यूड होता है।

सब पॉइंट्स को ध्यान में रखते हुए, आप शेयर मार्केट में अच्छी तरह से इनवेस्टमेंट कर सकते हैं और अपनी वेल्थ को ग्रो कर सकते हैं।

शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए?

शेयर बाजार से पैसे कामना एक बहुत ही आकर्षक विकल्प है, पर इसके लिए सही रणनीति और ज्ञान जरूरी है। यहां कुछ टिप्स हैं जिनसे आप शेयर बाजार से पैसे कमा सकते हैं

रिसर्च

शेयर बाजार में निवेश करने से पहले अच्छी रिसर्च करें और कंपनी के वित्तीय और मार्केट ट्रेंड्स को अच्छी तरह से स्टडी करें।

डायवर्सिफिकेशन

शेयर बाजार में निवेश करने से पहले अपने पोर्टफोलियो को डायवर्सिफाई करें। एक ही कंपनी के शेयरों में निवेश करें ना करें और अपने निवेश को विभिन्न क्षेत्रों और कंपनियों में वितरण करें। इससे आपके रिस्क को कम किया जा सकता है।

लंबी अवधि के निवेश

शेयर बाजार में लंबी अवधि के निवेश से ज्यादा पैसे कमाए जा सकते हैं। कंपनी के फंडामेंटल्स और ग्रोथ प्रॉस्पेक्ट्स का विश्लेषण करें और उनके लॉन्ग टर्म पोटेंशियल पर फोकस करें।

स्टॉप लॉस

अपने निवेश पर स्टॉप लॉस लगा कर अपनी हानि को मिनिमाइज करें।

सब्र

शेयर बाजार में पैसे कमाने के लिए सब्र बहुत जरूरी है। शॉर्ट टर्म वोलैटिलिटी से प्रभावित ना हो और अपने निवेश लॉन्ग टर्म फोकस राखे। सब टिप्स में ध्यान में रखते हुए, आप शेयर बाजार से अच्छी तरह से पैसे कमा सकते हैं।

शेयर मार्केट कैसे सीखे?

सभी को जल्दी अमीर बनने का का बहुत ही ज्यादा शौक होता है। इसलिए शायद वो सभी ऐसे ही quick और easy तरीकों के तलाश में रहते हैं जो की उन्हें कम समय में अमीर बना दें और साथ में उनके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ लायें।

ऐसे में सभी को Share Market ऐसा ही एक technique लगता है जहाँ से की वो कम समय में करोड़ों रूपए कमा सकते हैं। इसलिए वो अक्सर ऐसे Share Market Tips in hindi की तलाश में रहते हैं जो की जल्दी से इस्तमाल कर अमीर बन सकें। तो चलिए ऐसे ही कुछ share market tips के विषय में जानते हैं जिन्हें की सभी beginning investors को निश्चित रूप से जानना चाहिए।

1. सबसे पहले सीखें तभी आगे बढ़ें

कोई भी चीज़ हो उसमें अपना हाथ आजमाने से पहले आपको उसे पहले सही तरीके से जानना होता है। इसके लिए आपको पढाई करनी होती है। ऐसे में Share Market को भी पहले आप सीखना होता है तभी आप उसमें अपना पैसा invest करें। बिना Share Market का ज्ञान प्राप्त किये आपको आगे नहीं बढ़ना चाहिए।

2. अपना रिसर्च खुद करें

Research का नाम सुनते ही बहुत से लोग इससे दूर भागते हैं। लेकिन share market के सन्दर्भ में ऐसा बिलकुल भी नहीं करना चाहिए। क्यूंकि ये research ही है जो की आपको शेयर मार्किट में सफल बना सकता है।

वहीँ आपको बहुत से TV channels में कई market experts मिल जायेंगे जो की आपको शेयर्स की knowledge दे रहे होते हैं। वैसे हो सकता है की उनकी कुछ बातें सही भी हों लेकिन यदि वो इतने ही आसानी से अगर shares की कीमतों को predict कर पाते तो अपने घर बैठे ही पैसे कमा रहे होते।

3. Long-Term Goals Set करें

ये बात अच्छी तरीके से समझ लें की वो चाहे कोई भी investment क्यूँ न हो सभी investment long terms में ही बढ़िया result प्रदान करते हैं। ऐसे में आपको भी share market में यदि investment करना है तब उसे long term मानकर ही करें तभी आपको इसमें profit हो सकती है।

4. अपने Risk Tolerance को समझें

यहाँ Risk Tolerance कहने का मतलब है की सभी की अपनी एक risk लेने की सीमा होती है। जिसके तक ही उन्हें फर्क नहीं पड़ता की उनका loss हो या profit।

ऐसे में चूँकि share market थोडा risky होता है इसलिए इसमें उतना ही invest करें जितनी की risk आप उठा सकें। क्यूंकि यदि आप ज्यादा invest करते हैं तब अगर आपकी loss हो जाती है तब आपको कंगाल होने से कोई नहीं रोक सकता है। इसके अपने risk tolerance के हिसाब से अपनी portfolio तैयार करें।

5. Research और Planning करें

किसी भी field से आप क्यूँ न हो सभी में अच्छी research और planning की काफी ज्यादा महत्व होती है। क्यूंकि long term के success में यही research और planning ही आपकी सबसे ज्यादा काम आती है। वहीँ shares के selection करने के दौरान उन्हें अच्छे तरीके से research करें। जिससे आपको बाद में पछताना न पड़े।

6. अपने Emotions को Control करें

Share Market में ऐसा बहुत बार होता है की आप अपना emotion खो बैठते हैं जिसके चलते हैं आपको काफी नुकशान भी पहुँच सकता है। इन सभी चीज़ों से दूर रहने के लिए आपको अपने emotion को control करना सीखना होगा कहीं तभी जाकर आप एक अच्छे investor बन सकते हैं। इससे आपको मुनाफा या नुख्सान दोनों में से कोई एक हो सकता है।

7. Basics को First Clear करें

सभी subjects के तरह ही Share Market के भी कुछ basics होते हैं, जिन्हें की सभी investors को जरुर से समझना चाहिए। इसलिए share maket में अपना पैसा invest करने से पहले आपको इसके सभी basics से पूरी तरह से well versed होना चाहिए। ऐसा करने पर ही आप अपने investment में सफल बन सकते हैं।

8. Diversify करें अपने Investments को

आपको भी दुसरे सफल investors के तरह ही अपने investments को diversify करने की आवश्कता होती है। वो कहते हैं न की आपको अपने सभी अंडे एक पात्र में नहीं रखने चाहिए क्यूंकि अगर कुछ accident हो जाता है तब ऐसे में आपको अपने सभी अंडे से हाथ धोना पड़ सकता है।

समान Investment में भी ये rule लागु होती है। आपको अपने सभी पैसे एक ही share में invest नहीं करनी चाहिए। बल्कि अपने portfolio में अलग अलग category के shares को रखना चाहिए जिससे आपके investment का risk diversify हो जाता है। वहीँ ऐसे में आप अपने risk को कम भी कर सकते हैं।

Advertisement
Gold And Silver Updates
Rashifal
Market Live
Latest news
अन्य खबरे