Monday, May 20, 2024

कौन हैं 31 वर्षीय आसिफा भुट्टो जो होंगी पाकिस्तान की प्रथम महिला ?

राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने अपनी बेटी आसिफा भुट्टो जरदारी को प्रथम महिला बनाने का फैसला किया है. पीपुल्स पार्टी के मुताबिक, राष्ट्रपति आसिफ जरदारी आधिकारिक तौर पर आसिफा भुट्टो को प्रथम महिला घोषित करेंगे. आसिफा भुट्टो को प्रथम महिला प्रोटोकॉल भी मिलेगा, जिसके बाद पाकिस्तान की वह पहली प्रथम महिला होंगी जो राष्ट्रपति की बेटी हैं.

जियो टीवी के मुताबिक, आमतौर पर प्रथम महिला का दर्जा पत्नी को मिलता है, लेकिन पाकिस्तान में बेटी को प्रथम महिला का दर्जा दिया जा रहा है. 8 फरवरी को आम चुनाव के लिए आसिफा भुट्टो ने देशभर में पीपुल्स पार्टी के लिए प्रचार किया और अपने भाई बिलावल भुट्टो जरदारी का समर्थन किया. 3 फरवरी, 1993 को जन्मी, आसिफा भुट्टो जरदारी पाकिस्तान की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टियों में से एक पीपुल्स पार्टी के राजनीतिक परिवार का हिस्सा हैं. आसिफा, आसिफ अली जरदारी की सबसे छोटी बेटी हैं.

पाकिस्तान में बेटी बनेंगी देश की प्रथम महिला

जियो टीवी ने बताया कि आसिफा भुट्टो बिलावल भुट्टो जरदारी और बख्तावर भुट्टो जरदारी की छोटी बहन हैं, वह पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के संस्थापक शहीद जुल्फिकार अली भुट्टो और ईरानी मूल की नुसरत भुट्टो की पोती और शाहनवाज भुट्टो और मुर्तजा भुट्टो की भतीजी हैं. आसिफा अपने पिता के सबसे करीब रहीं, जेल के दिनों में और अदालत में पेशी के दौरान वह हमेशा आसिफ अली जरदारी की गोद में नजर आती थीं.

बीते दिन राष्ट्रपति भवन में हुए शपथ ग्रहण समारोह में आसिफा अपने पिता के साथ उनकी बांह में बांह डालकर चल रही थीं. पाकिस्तान के 14वें राष्ट्रपति के तौर पर आसिफ अली जरदारी ने पद की शपथ ली है. आसिफ अली को दोनों सदनों में कुल 255 वोट मिले. इसके अलावा पाकिस्तान के चार प्रांतों में से तीन में भी उन्हें भारी बहुमत मिला और अंत में 411 वोट हासिल करके जरदारी ने राष्ट्रपति चुनाव जीता. वहीं, उनके प्रतिद्वंद्वी को सिर्फ 181 वोट ही हासिल हुए.

11 साल जेल में रहे हैं आसिफ अली जरदारी

आसिफ अली जरदारी पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो के पति है. बेनजीर की सरकार गिरने के बाद आसिफ अली जरदारी पर गंभीर धाराओं में मुकदमे दर्ज किए गए थे, जिसके बाद उनको करीब 11 साल तक जेल में रहना पड़ा. हालांकि आसिफ अली पर कोई अपराध शाबित नहीं हुए, अब वह दूसरी बार पाकिस्तान के राष्ट्रपति बने हैं. इसके पहले साल 2008 से 2013 के बीच आसिफ अली जरदारी पाकिस्तान के 11वें राष्ट्रपति थे.

Advertisement
Gold And Silver Updates
Rashifal
Market Live
Latest news
अन्य खबरे